जैसलमेर जिला कलेक्टर ने ली समीक्षा बैठक!


जैसलमेर, 27 मई/जिला कलक्टर नमित मेहता ने बुधवार को जैसलमेर जिला कलक्ट्री सभा कक्ष में कोविड-19 के अन्तर्गत संचालित गतिविधियों की समीक्षा के लिए अधिकारियों की बैठक ली और समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

जिला कलक्टर मेहता ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभागीय अधिकारियों से कहा कि शहर की घनी बस्तियों में रेण्डम सेंपल्स की संख्या बढ़ाएं और यह सुनिश्चित करें कि जिले से रोजाना कम से कम ढाई सौ से तीन सौ तक सेंपल लेकर जांच के लिए भिजवाएं। उन्होंने कहा कि निकट सम्पर्क में आने वाले लोगों के सेंपल्स अनिवार्य रूप से लिए जाएं। इसके अलावा उन लोगों व दुकानदारों के भी सेंपल लिए जाएं जिनका हाल के समय में अधिक से अधिक लोगों से सम्पर्क हुआ हो।

बैठक मेंं उप निवेशन उपायुक्त दुर्गेश बिस्सा, नगर विकास न्यास के सचिव अनुराग भार्गव, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी. विश्नोई, मुख्य कार्यकारी अधिकारी ओमप्रकाश, सहायक निदेशक (लोक सेवाएं) भारतभूषण गोयल, उपखण्ड अधिकारी दिनेश विश्नोई, तहसीलदार विकास भाटी, नगर परिषद आयुक्त बृजेश राय, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी सत्येन्द्र कुमार व्यास, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ. बी.एल. बुनकर, उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी (स्वास्थ्य) डॉ. एम.डी. सोनी, जिला रसद अधिकारी भागुराम महला, जिला औषधि नियंत्रण अधिकारी राजेश मीणा, प्रोग्रामर मनोज विश्नोई आदि अधिकारी उपस्थित थे।

जिला कलक्टर ने सभी अधिकारियों से फीडबेक लिया और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने कोविड केयर सेंटर के प्रबन्धों की समीक्षा करते हुए शीघ्र सभी व्यवस्थाएं पूर्ण करने, सीसीटीवी कैमरे लगाने, क्षेत्रीय भ्रमण के दौरान पेयजल आपूर्ति की स्थिति की नियमित रूप से जांच करने, पानी से संबंधित समस्याओं के त्वरित निस्तारण के लिए तात्कालिक प्रयास करने, नवसृजित पंचायतों एवं पंचायत समितियों में खाली पड़े राजकीय भवनों की उपयोगिता सुनिश्चित करने, पानी के नमूने लेकर जांच कराने, जल स्रोतों की ब्लीचिंग, चारा डिपो के प्रस्तावों पर अग्रिम कार्यवाही करने, होम क्वारंटीन की जांच, बाहर से आने वाले हरेक व्यक्ति को 14 दिन होम क्वारंटीन करने आदि के बारे में विभिन्न विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed